मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जनता को दी क्रिसमस की बधाई, कहा- यीशु मसीह ने सत्य, अहिंसा, पवित्रता और दया के मार्ग का संदेश दिया।

रायपुर 24 दिसंबर।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने क्रिसमस के शुभ अवसर पर ईसाईयों और आम नागरिकों को क्रिसमस की शुभकामनाएं दी हैं। क्रिसमस की पूर्व संध्या पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि यीशु मसीह ने सत्य, अहिंसा, पवित्रता, दया और सामाजिक समानता के मार्ग का अनुसरण किया।

मुख्यमंत्री ने राज्य के नागरिकों की शांति और समृद्धि के लिए प्रार्थना की है। क्रिसमस को ईसा मसीह के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है। क्रिसमस या बड़ा दिन हर वर्ष 25 दिसंबर को पड़ता है। इस दिन संपूर्ण विश्व में अवकाश रहता है।

क्रिसमस से 12 दिन के उत्सव क्रिसमसटाइड की शुरुआत भी होती है। एन्नो डोमिनी काल प्रणाली के आदार पर प्रभु यीशु का जन्म 7 से 2 ई.पू. के बीच  हुआ था, हालांकि 25 दिसंबर यीशु मसीह के जन्म की कोई ज्ञात वास्तविक जन्मतिथि नहीं है। इस तिथि को मकर संक्रांति (शीत अयनांत) से संबंधि स्थापित करने के आधार पर चुना गया है। क्रिसमस में सांता क्लॉज का विशेष महत्व है।

सांता क्लॉज को क्रिसमस का पिता भी कहा जाता है। क्रिसमस पर लोग अपने घरों में क्रिसमस ट्री सजाते हैं और एक दूसरे को तोहफे आदान-प्रदान करते हैं।

Related Post

Leave a Comment